इतिहास की वह सबसे सुंदर रानी जिसे अकबर हर हाल में पाना चाहता था

रानी दुर्गावती की शादी गोडवाना के दलपत शाह से हुई थी लेकिन दलपत शाह की असमय ही मृत्यु हो गयी। उसके बाद रानी दुर्गावती ने गोड़वाना राज्य को संभाला था दुर्गावती ने एक पुत्र को जन्म दिया था जिसका नाम वीर नारायण था।

जब वीर नारायण जवान हो गया था तो दुर्गावती ने उसकी शादी करने की सोची। तब दुर्गावती ने उसका विवाह पड़ोसी राज्य पुरागढ़ के राजा की सौलह वर्षीय खूबसूरत पुत्री हीरा से तय किया था। लेकिन उस समय अकबर भारत की खूबसूरत स्त्रियों को आगरा अपने हरम में डाल रहा था।

जिसके कारण भारत के सभी राजा अपनी स्त्रियों की रक्षा मे लगे हुए थे। जब अकबर को दुर्गावती के बेटे की शादी का पता चला तो अकबर ने गोडवाना पर आक्रमण कर दिया और एक भयंकर युद्ध हुआ जिसका मुख्य उद्देश्य रानी दुर्गावती और उसकी पुत्रवधू को गुलाम बनाकर आगरा ले जाने का था।

लेकिन दुर्गावती ने अकबर से युद्ध छेढ़ दिया और अपनी अंतिम सांस तक लड़ती रही। दुर्गावती अपने बीस हजार सैनीकों से पचास हजार मुगल सैनिकों का सामना किया था।

Sharing is caring!

Leave a Comment