भारत के 3 वीर राजाओं पर, इन कायरों ने किया पीछे से वार

आज हम इस पोस्‍ट में 3 ऐसे महान भारतीय राजाओं के बारे में बात करने जा रहा हूं, जिन पर कुछ कायरों ने पीछे से वार किया था, क्‍योंकि वह उन राजाओं का सामने से मुकाबला नहीं कर सकते थे इसलिए पीछे से वार किया।

1-रतन सिंह- अलाउद्दीन ने अपने शासन काल में राजा रतन सिंह पर पीछे से वार किया था, क्‍योंकि उसका दिल उनकी रानी पद्यमिनी पर आ गया था। अलाउद्दीन राजा रतन सिंह का सामना नहीं कर सकता था इसलिए उसने रतन सिंह पर पीछे से वार किया था।

2-टीपू सुल्‍तान-टीपू सुल्‍तान एक निडर, वीर और साहसी योद्धा था, टीपू ने अपने जीवन भर अंग्रेजों का जमकर मुकाबला किया था।। अंग्रेजों ने षड़यंत्र बनाकर टीपू की हत्‍या की उसके बाद पूरे भारत पर अपना प्रभुत्‍व जमा लिया था। टीपू मुस्लिम शासक होते हुए भी हिंदू धर्म का पूरा आदर करता था।

3-संभाजी-ये एक ऐसा वीर योद्धा था जिसे हरा पाना सबके बस की बात नहीं थी, संभाजी ने अपने पूरे जीवन में 120 युद्ध किये लेकिन किसी में उन्‍हें हार का सामना नही करना पड़ा था। औरंगजेंब को पता था कि वह संभाजी को हरा नहीं सकता है इसलिए उसने एक चाल के तहत सभाजी को मार दिया। मारने से पलले औरंगजेब ने संभाजी से अपनी शरण में आने को कहा था, लेकिन संभाजी ने औरंगजेब से कहा कि जिंदगी कुर्बान कर दूंगा, लेकिन मुगल शासकों की शरण में नहीं आऊंगा।

Sharing is caring!

Leave a Comment