जीवन में सफल होना है तो रावण के ये पांच उपदेश कभी नहीं भूलना

रावण के पांच ऐसे उपदेशों के बारे में बताएंगे अगर आप अपने जीवन में सफल होना चाहते हो तो रावण के इन पांच उपदेशों को कभी नहीं भूलना | रावण के पास ऐसी शक्तियां थी जिससे उसे कोई भी नहीं मार सकता था, लेकिन अपनी शक्तियों का गलत इस्तेमाल करने से रावण का अंत बहुत ही बुरा हुआ था | रावण द्वारा बताये गये पांच उपदेश निम्नलिखित है:-
1). कोई भी इंसान अपने शत्रु को कभी भी कमजोर नहीं समझे, क्योंकि कई बार जिसे कम कमजोर समझते है वह हमसे भी ज्यादा ताकतवर होता है |

2). कोई भी इंसान हमेशा अपने हितैषियों की बातें जरूर माने क्योंकि कोई भी हितैषी अपनों का बुरा नहीं चाहता |

3). किसी भी इंसान को पराई स्त्री पर बुरी नजर नहीं डालनी चाहिए क्योंकि पराई स्त्री और बुरी नजर डालने वाला इंसान हमेशा हलाक हो जाता है |

4). कोई भी इंसान अपने बल का दुरुपयोग कभी नहीं करें क्योंकि घमंड इंसान को ऐसे तोड़ देता है जैसे – दांत किसी सुपारी को तोड़ता है |

5). इंसान को हमेशा अपने मित्र और शत्रु की पहचान करना चाहिए | कई बार जिसे हम अपना मित्र समझते है वो ही शत्रु साबित हो जाते है और जिसे हम पराया समझते है वह हमेशा अपने कल्याण के बारे में सोचता है |

Sharing is caring!

Leave a Comment