मालिक के सिर पर ‘मौत’ मंडराती देख कुत्ते ने दिखाई बहादुरी, चर्चा का विषय बनी कुत्ते की वफादारी

कहते हैं इंसान का यदि कोई वफादार जानवर है तो वह कुत्‍ता होता है। यही वफादार कुत्‍ता अपने मालिक के लिए जान दे भी सकता है और ले भी सकता है। यहां हम आपको कुछ ऐसे ही कुत्तों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने एक जहरीले कोबरा से ना सिर्फ अपने मालिक और उसके परिवार जी जान बचाई बल्कि इस चक्कर में अपनी जान भी दे दी। सांप से लड़ाई करने के दौरान इन चारों पालतू कुत्तों की मौत हो गई।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक घटना बिहार के भागलपुर के साहेबगंज की है। सोमवार रात एक कोबरा सांप वहां रहने वाले डॉक्टर पूनम के घर में घुसने की कोशिश कर रहा था उसी दौरान डॉक्टर के चार पालतू कुत्तों ने उस जहरीले सांप से लोहा लिया और उसे घर में घुसने से रोक लिया जिस चक्कर में उनकी जान चली गई।

जब तक सांप मर नहीं गया वे उससे लड़ते रहे। चारों कुत्ते एक-एक करके सांप से उलझते चले गए पहले दो कुत्तों की जान चली गई जिसके बाद दो अन्य कुत्ते उन्हें बचाने के लिए आए तो उन्होंने भी सांप के साथ लड़ाई के दौरान अपना दम तोड़ दिया। मृत कुत्तों को देखकर सभी की आंखें नम हो गई। गली मोहल्ले में कुत्तों की वफादारी की चर्चा होने लगी।

एक और ऐसी ही घटना:

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में एक कुत्ते ने वफादारी और निस्वार्थ प्रेम की मिशाल पेश की है। दुधवा नैशनल पार्क के पास स्थित एक गांव में किसान के साथ रहने वाला कुत्ता अपने मालिक को बचाने के लिए बाघ से लड़ गया। इस भिड़ंत में उसकी मौत हो गई। हादसा यहां से 52 किलोमीटर दूर स्थित खुटार कस्बे के बरगटपुर गांव का है। जानकारी के मुताबिक किसान गुरदेव सिंह अपने चार साल के कुत्ते जैकी से साथ घर के बाहर सो रहे थे, तभी जैकी ने पास के जंगल से आते हुए एक बाघ को देखा। उसने अपने मालिक को जगाने का प्रयास किया लेकिन गुरदेव नहीं जागे।

 

 

Sharing is caring!

Leave a Comment